Currently browsing:- Stories in Hindi:


ads


Bull Trapped in Well Story in Hindi

ये कहानी आपके जीने की सोच बदल देगी…!!!

एक दिन एक किसान का बैल कुएँ में गिर गया वह बैल घंटों ज़ोर -ज़ोर से रोता रहा और किसान सुनता रहा और विचार करता रहा कि उसे क्या करना चाहिऐ और क्या नहीं। अंततः उसने निर्णय लिया कि चूंकि बैल काफी बूढा हो चूका था अतः उसे बचाने से कोई लाभ होने वाला नहीं…

Anmol Vachan in Hindi

मानव जीवन में तीन बातें महत्वपूर्ण हैं!!

मानव जीवन में उपयोगी तीन ज्ञानवर्ध एवं महत्वपूर्ण बातें !! ” सोचो, समझो, फिर करो “ √ तीन चीजों को कभी छोटी ना समझे – बीमारी, कर्जा, शत्रु ! √ तीनों चीजों को हमेशा वश में रखो – मन, काम और लोभ ! √ तीन चीज़ें निकलने पर वापिस नहीं आती – तीर कमान से,…

Anmol Vachan in Hindi

मुझे नौकरी की जरुरत नहीं हैं !! Self Appraisal

एक बहुत अच्छा मैसेज – एक छोटा बच्चा एक बड़ी दुकान पर लगे टेलीफोन बूथ पर जाता हैं और मालिक से छुट्टे पैसे लेकर एक नंबर डायल करता हैं। दुकान का मालिक उस लड़के को ध्यान से देखते हुए उसकी बातचीत पर ध्यान देता हैं- लड़का – मैडम क्या आप मुझे अपने बगीचे की साफ़…

Anmol Vachan in Hindi

बहाने नहीं सफलता के रास्ते खोजिए – Really Inspiring

बहाने नहीं सफलता के रास्ते खोजिए. . . . .! ————————————————- 1. मुझे उचित शिक्षा लेने का अवसर नही मिला। उचित शिक्षा का अवसर फोर्ड मोटर्स के मालिक हेनरी फोर्ड को भी नही मिला। 2. अत्यंत गरीब घर से हूँ। पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम भी गरीब घर से थे। 3. बचपन मे ही मेरे पिता…

Anmol Vachan in Hindi

गौर से दो बार पढे जिँदगी के दिमाग हिला देने वाले सच!!

गौर से दो बार पढे जिँदगी के दिमाग हिला देने वाले सच!! जिस दिन हमारी मोत होती है, हमारा पैसा बैंक में ही रहा जाता है। * जब हम जिंदा होते हैं तो हमें लगता है कि हमारे पास खर्च करने को पपर्याप्त धन नहीं है। * जब हम चले जाते है तब भी बहुत…

Anmol Vachan in Hindi

ये कड़वी सच्चाई है ! Must Read

 ये कड़वी सच्चाई है…!! नदी तालाब मेँ नहाने मेँ शर्म आती है, और स्विमिँग पूल मेँ तैरने को फैशन कहते हो…. गरीब को एक रुपया दान नहीँ कर सकते, और वेटर को टीप देने मेँ गर्व महसूस करते हो.. माँ बाप को एक गिलास पानी भी नहीँ दे सकते, और नेताओँ को देखते ही वेटर…

ईश्वर चन्द्र विद्या सागर और छात्र – Good Moral Story in Hindi

एक बार की बात है, ईश्वर चन्द्र विद्या सागर कलकत्ता के रेलवे स्टेशन पर थे । तभी स्टेशन पर एक ट्रेन आ कर रुकी, उस में से एक नव युवक उतरा । वह देखने में एक Student लग रहा था । गाड़ी से उतरते ही वो कुली को पुकारने लगा – कुली –कुली । जबकि…

link ads