Currently browsing:- Short Hindi Stories With Moral:


ads


guru ki khusboo prerak prshang

” गुरु की खुशबु ” एक प्रेरक प्रसंग

” गुरु की खुशबु ” एक प्रेरक प्रसंग/ फुर्सत के क्षणों में- ::::::::::::::::::::::::::::::::::::::: निजामुद्दीन औलिया एक महान मुस्लिम संत हुए हैं। एक बार एक गरीब आदमी,जिसकी बेटी विवाह योग्य थी, संत औलिया के पास इस उद्देश्य से आया कि कुछ सहायता मिल जायेगी क्योंकि संत बड़े दयालु होते हैं। संत से जब गरीब आदमी ने…

दयालु लकड़हारा!! (Short Moral Story in Hindi)

दयालु लकड़हारा!! (Short Moral Story in Hindi) बहुत समय पहले किशनपुर गाँव में रामू नाम का एक गरीब लकड़हारा रहता था। वह दूसराे की मदद के लिए हमेशा तैयार रहता। जीवाें के प्रति उसके मन में बहुत दया थी। एक दिन वह जंगल से लकड़ी इकट्ठी करने के बाद थक गया ताे थाेड़ी देर सुस्ताने…

Anmol Vachan in Hindi

एक ही घड़ी मुहूर्त में जन्म लेने पर भी… प्रेरक कथा

एक ही घड़ी मुहूर्त में जन्म लेने पर भी सबके कर्म और भाग्य अलग अलग क्यों एक प्रेरक कथा … एक बार एक राजा ने विद्वान ज्योतिषियों की सभा बुलाकर प्रश्न किया- मेरी जन्म पत्रिका के अनुसार मेरा राजा बनने का योग था मैं राजा बना, किन्तु उसी घड़ी मुहूर्त में अनेक जातकों ने जन्म…

Anmol Vachan in Hindi

दो शेरों की दोस्ती बिगड़ जाती है!!

दो शेरों की दोस्ती बिगड़ जाती है, दोनों ही एक दुसरे के दुश्मन हो जाते हैं, फिर दोनों एक दूसरे से 10 साल तक बात तक नही करते…… एक बार पहले शेर और उसकी बीवी-बच्चों को 25-30 कुत्ते नोचने लगते हैं……. तभी दूसरा शेर आता है, और उन कुत्तों को केले के छिलके की तरह…

Anmol Vachan in Hindi

एक सेठ और सेठानी रोज सत्संग में जाते थे।

एक सेठ और सेठानी रोज सत्संग में जाते थे। सेठजी के एक घर एक पिंजरे में तोता पाला हुआ था। तोता एक दिन पूछता हैं कि सेठजी, आप रोज कहाँ जाते है। सेठजी बोले कि सत्संग में ज्ञान सुनने जाते है। तोता कहता है, सेठजी संत महात्मा से एक बात पूछना कि में आजाद कब…

Anmol Vachan in Hindi

आम का पेड़ हमारे माता-पिता हैं!! ~ प्रेरणादायक कहानी

एक बच्चे को आम का पेड़ बहुत पसंद था। जब भी फुर्सत मिलती वो आम के पेड़ के पास पहुंच जाता। पेड़ के उपर चढ़ता,आम खाता,खेलता और थक जाने पर उसी की छाया मे सो जाता। उस बच्चे और आम के पेड़ के बीच एक अनोखा रिश्ता बन गया। बच्चा जैसे-जैसे बड़ा होता गया वैसे-वैसे…

Positive Attitude Prerak Prasang in Hindi

हमें उन परिस्थितियों से लड़ना नहीं आता!!

एक घर के पास काफी दिन से एक बड़ी इमारत का काम चल रहा था। वहां रोज मजदूरों के छोटे-छोटे बच्चे एक दूसरे की शर्ट पकडकर रेल-रेल का खेल खेलते थे। रोज कोई बच्चा इंजिन बनता और बाकी बच्चे डिब्बे बनते थे… इंजिन और डिब्बे वाले बच्चे रोज बदल जाते, पर… केवल चङ्ङी पहना एक…

Ant and The Grasshopper Moral Story in Hindi

चींटी और टिड्डे की कहानी।

गर्मी के दिनों की बात है। एक जगह एक मैदान में एक टिड्डा यहाँ-वहाँ कूद रहा था और फुदाक रहा था और काफ़ी चहक रहा था। टिड्डा बहुत मस्ती में था और गाना गाते हुए आगे बढ़ रहा था। अचानक ही एक चींटी उसके सामने से गुज़री। उसने देखा की चींटी एक मक्‍के के दाने…

Short Motivational Stories in Hindi

करीबियों का दिल ना तोड़ें…!!!

?एक राजमहल में कामवाली और उसका बेटा काम करते थे! एक दिन राजमहल में कामवाली के बेटे को हीरा मिलता है। वो माँ को बताता है…. ?कामवाली होशियारी से वो हीरा बाहर फेककर कहती है ये कांच है हीरा नहीं….. कामवाली घर जाते वक्त चुपके से वो हीरा उठाके ले जाती है। ?वह सुनार के…

Father Son Heart Touching Stories in Hindi

ईमानदारी का इनाम ! बाप बेटा की अदभुत कहानी !!

अदभुत कथा- ……………………………………………. इस साल मेरा सात वर्षीय बेटा दूसरी कक्षा मैं प्रवेश पा गया!! क्लास मैं हमेशा से अव्वल आता रहा है! पिछले दिनों तनख्वाह मिली तो… मैं उसे नयी स्कूल ड्रेस और जूते दिलवाने के लिए बाज़ार ले गया ! बेटे ने जूते लेने से ये कह कर मना कर दिया की पुराने…

link ads