Currently browsing:- Anmol Vachan in Hindi:


ads


Krodh Ek Aisa Tezab Hai!!

क्रोध एक ऐसा तेजाब है, जो जिस चीज़ पे डाला जाता है उससे ज्यादा उस पत्र को नुकशान पहुचता है जिसमे वो रखा होता है! Krodh Ek Aisa Tezab Hai Jo Jis Chiz Pe Dala Jata Hai Usse Jyda Us Patra Ko Nukshan Pahuchata Hai Jisme Wo Rakkha Hota Hai हालात जैसे भी हो डटे…

Money Quotes Dhan Daulat Anmol Vachan in Hindi

धन से धन से पुस्तक मिलती है!

Money Quotes Dhan Daulat Anmol Vachan in Hindi Dhan Se Books Milti Hai Kintu Gyan Nahi Dhan Se Abhusan Milta Hai Kintu Rup Nahi Dhan Se Sukh Milta Hai Kintu Anand Nahi Dhan Se Sathi Milte Hain Kintu Sacche Mitra Nahi Dhan Se Bhojan Milta Hai Kintu Bhook Nahi Dhan Se Dawa Milti Hai Kintu…

Ek Gum Ko Le Kar Bar Bar Dukhi Kyun Hote Ho!

Anmol Vachan in Hindi Language Ek Jokar Ne Logo Ko Ek Joke Sunaya … Sab Log Bahut Hase … Ushne Wahi Joke Dubara Sunaya Kam Log Hase Usne Wahi Joke Phir Sunaya To Koi Nahi Hasha — Phir Usne Ek Bahut Pyari Si Booli — ” Agar Tum Ek Khusi Ko Le Kar Bar Bar…

गरीब की आँखों में आशा – Anmol Vachan in Hindi

गरीब की आँखों में आशा अमीर की आँखों में घमंड Gareeb Ki Ankhon Main ASHA Ameer Ki Ankhon Main GHAMAND अंदर से हर इंसान स्‍वार्थी होता है, हमें इस बात को समझ लेना चाहिए, अन्‍यथा हम पूरी जिंदगी लोगों पर स्‍वार्थी होने का इल्‍जाम लगाते रहेंगे। इन गरीबों ने सबको इंसानियत का नजारा दिया सोने…

इस तरह न कमाओ की पाप हो जाये! Anmol Vachan

इस तरह न कमाओ की पाप हो जाये! इस तरह न खर्च करो की कारज हो जाये! इस तरह न खाओ कि मर्ज हो जाये! इस तरह न बोलो की कलेश हो जाये! इस तरह न चलो की डियर हो जाये! इस तरह न सोचो की चिंता हो जाये! Ish Tarah Na Kamao Ki PAAP…

Anmol Vachan Hindi Facebook Images

इच्छाशक्ति कल्पवृक्ष के समान है, जो आपको हर वो चीज दे सकती है जिसकी आप कल्पना करते हैं… Iccha Shakti Kalpvraksh Ke Saman Hai, Jo Aapko Har Wo Chiz De Sakti Hai Jiski Aap Kalpna Karte Hain… कभी भी खाने में कमी न निकालो दोस्‍तों एक स्‍त्री घंटों तपती है गर्मी में आपके एक वक्‍त…

Anmol Vachan in Hindi With Picture

Anmol Vachan in Hindi With Picture

जो हाथ सेवा के लिए उठते है, वे प्रार्थना करते होंठों से पवित्र है! Jo Hath Seva Ke Liye Uthtey Hai Ve Prarthna Karte Honthon Se Pavitra Hai सिर्फ संतोष ढूँढिये, आवश्यकताएं तो कभी समाप्त नही होंगी…”॥ गलत सोच और गलत अंदाजा इंसान को हर रिश्ते से गुमराह कर देता है शब्द यात्रा करते हैं……

link ads