Munshi Premchand Thoughts in Hindi on Poems

Munshi Premchand Thoughts in Hindi on Poems
Munshi Premchand Thoughts in Hindi on Poems

Kavita Sacchi Bhavnao Ka Chitra Hai Aur…
Sacchi Bhavnaye Chahe Ve Dukh Ki Ho Ya Sukh Ki
Ushi Samay Sampann Hoti Hai Jab Hum Dukh Ya Sukh
Ka Anubhav Karte Hain…!! – Munshi Premchand


क्या बिगाड़ के डर से ईमान की बात भी न करोगे ?’
मुंशी प्रेमचंद


प्रेमचंद जयंती पर सादर समर्पित।
—————–
हिंदी साहित्य मुंशी प्रेमचंद के,
योगदान को कभी न भूल पायेगा,
नाजुक से रिश्तों की खाई को,
उनका कालजयी लेखन ही पाट पायेगा,
वाराणसी के लमही के ये लाल,
क्या कमाल कर गए,
आधुनिक हिंदी काल के,
सशक्त हस्ताक्षर बन
हर हृदय के सम्राट बन गए,
साधारण शब्दों से गौतम,
असाधारण वो रच गए।


या मौला,..
शोहरत की आरज़ू नहीं तेरे बंदे को।
बस हामिद-सी मोहब्बत कर सकूं,
इस काबिल बनाना..।
ईद की सेवइयां घर पर बने न बने,
दादी का चिमटा ईदगाह से ला सकूं…,
इतनी खुद्दारी का नूर मुझ पर बरसाना..।


‘रंगभूमि’ ‘कर्मभूमि’ ‘गबन’ ‘गोदान’
हिन्दी साहित्य को
मुंशी प्रेमचंद ईश्वरीय ‘वरदान’

कठिन शब्दों से दूर रखा
सरल भाषा में ‘कायाकल्प’ दिया
‘प्रतिज्ञा’ ‘बेवा’ ‘निर्मला’
लिख हमें कृतज्ञ किया

‘पंच परमेश्वर’ ‘सज्जनता का दंड’
‘दुर्गा का मंदिर’ ‘ईश्वरीय न्याय’
कलम जब भी चली
बस मोतियाँ बरसाए

जो पढ़ लेता हैं कहानियाँ आपकी
शब्द चले आते हैं पहन
तस्वीर का चोगा
‘गुप्त धन’ ‘पूस की रात’
‘नमक का दरोगा’

‘दुनिया के सबसे अनमोल रतन’
‘उपदेश’ ‘बलिदान’ ‘बेटी का धन’
‘सेवा सदन’
‘बूढी काकी’ ‘पुत्र प्रेम’
‘लौटरी’ ‘नशा’ ‘कफ़न’

‘अदीब की इज्ज़त’
‘बड़े भाई साहब’
‘प्रेमा’ ‘किसना’ ‘रोती रानी’
‘परीक्षा’ ‘अग्नि समाधी’ ‘प्रायश्चित’

‘ढाई सेर गेहू’
‘दो बैलो की कथा’
‘उधार की गाड़ी’
‘सवा सेर गेहू’
‘सुहाग की साड़ी’

‘सतरंज के खिलाडी’
‘ठाकुर का कौन’
‘दरोगा साहब’ ‘भाड़े का टट्टू’
‘मजदूर’ ‘आत्माराम’ ‘आभूषण’ ‘चोरी’
‘वज्रपात’ ‘जुलूस’ ‘जुरमाना’ ‘जेल’
‘मुक्ति मार्ग’ ‘सत्याग्रह’ ‘निजात’

‘त्रिया चरित्र’ ‘सौतेली माँ’
‘हार की जीत’ ‘गुरुमंत्र’
‘वज्रपात’ ‘विमाता’
‘मनुष्य का परम धर्म’
‘मर्यादा की वेदी’
‘प्रायश्चित्त’ ‘निमंत्रण’
‘पशु से मनुष्य’

मुंशी प्रेम चंद
‘चाँदी की डिबिया’
साहित्य की चमक
हिंदी की रौशनी
जन्मदिन पे सत सत नमन करूँ
मैं कलम छोटी सी

ads


 
अनमोल वचन - जो सोच बदल दे!
सार्वजनिक समूह · 8,780 सदस्य
समूह में शामिल हों
अनमोल वचन ~ Words That Changed The Life Visit for View Full Anmol Vachan Collection, Hindi Moral Stories, General Knowledge http://anmolvachan.in/
 

link ads

About Auther:

Words That Changed The Life Precious Words...