Odh Kar Tiranga Kyo Papa Aaye Hain Poem

ओढ़ के तिरंगा क्यों पापा आये है?

शहीद जवान के बच्चे की दिल छू गई कविता ओढ़ के तिरंगा क्यों पापा आये है? माँ मेरा मन बात ये समझ ना पाये है, ओढ़ के तिरंगे को क्यूँ[…]

Patriotic Poetry Indian Desh Bhakti Shayari in Hindi

Patriotic Poetry Indian Desh Bhakti Shayari in Hindi

खूब बहती है, अमन की गंगा बहने दो… मत फैलाओ देश में दंगा रहने दो… लाल हरे रंग में ना बाटो हमको… मेरे छत पर एक तिरंगा रहने दो…!! Patriotic[…]

Indian Patriotic Desh Bhakti Shayari in Hindi

Indian Patriotic Desh Bhakti Shayari in Hindi

खुशनसीब होते हैं वो लोग….!! जो इस देश पर कुर्बान होते हैं….!! जान देके भी वो लोग अमर हो जाते हैं….!! करते हैं सलाम उन देश प्रेमियों को….!! जिनके कारन[…]

Desh Bhakti Indian Patriotic Thoughts in Hindi

Desh Bhakti Indian Patriotic Thoughts in Hindi

अपनी धरती अपना हैं ये वतन, मेरा है मेरा है ये वतन इस पर जो आॅंख उठाएगा, जिंदा दफना दिया जाएगा मुझे जान से भी प्यारा है ये वतन!!

Desh Bhakti Thoughts in Hindi Patriotic Sayings

Desh Bhakti Thoughts in Hindi Patriotic Sayings

तैरना है तो समंदर में तैरो नालों में क्या रखा हैं, प्यार करना है तो देश से करो औरों में क्या रखा हैं!!