Anmol Vachan of Mahatma Gandhi in Hindi

Anmol Vachan of Mahatma Gandhi in Hindi

क्रोध एक प्रचंड अग्नि है, जो मनुष्य इस अग्नि को
वश मैं कर सकता है, वह उसे बुझा देगा,
जो मनुष्य अग्नि को वश मैं नहीं कर सकता वह स्वयं अपने को जला लेगा!!

Krodh Ek Prachand Agni Hai, Jo Manushya Is Agni Ko
Vash Main Kar Sakta Hai, Wah Use Bujha Dega,
Jo Manushya Agni Ko Vash Main Nahi Kar Sakta Wah Swaym Apne Ko Jala Lega
– Mahatma Gandhi

यदि यह आपको अच्छा लगा हो तो शेयर जरुर करें और आप व आपके परिचितों को Anmol Vachan की Hindi Motivational Stories and Articles पढ़ने के लिये प्रेरित करें। आपके पास भी अगर ऐसे ही प्रेरणादायक Prerak Prasang, Kahaniya, Quotes या Kavita Hindi में हैं तो हमारी ईमेल anmolvachan.in@gmail.com पर जरूर भेजें, हम उसे अपनी वेबसाईट www.anmolvachan.in पर पोस्‍ट करके अन्‍य को भी प्रेरणा दे सकते हैं।

अपनी प्रतिक्रिया दें...

Your email address will not be published. Required fields are marked *